Dr. Rahat Indori - Aur Hontho Par Raag Wahi Kesariya Hai, Badhiya Hai - Flash Jokes - Latest shayari and funny jokes

Dr. Rahat Indori - Aur Hontho Par Raag Wahi Kesariya Hai, Badhiya Hai

Dr. Rahat Indori - Aur Hontho Par Raag Wahi Kesariya Hai, Badhiya Hai
Dr. Rahat Indori - Aur Hontho Par Raag Wahi Kesariya Hai, Badhiya Hai

राहत इंदौरी के बारे में :-

राहत कुरैशी, जिसे बाद में राहत इंदौरी के नाम से जाना जाता है, का जन्म 1 जनवरी 1950 को इंदौर में रफतुल्लाह कुरैशी, कपड़ा मिल मजदूर और उनकी पत्नी मकबूल उन निसा बेगम के यहाँ हुआ था। वह उनका चौथा बच्चा था। 

उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा नूतन स्कूल इंदौर से की जहाँ से उन्होंने अपनी हायर सेकंडरी पूरी की। उन्होंने 1973 में इस्लामिया करीमिया कॉलेज, 

इंदौर से स्नातक की पढ़ाई पूरी की और 1975 में बरकतउल्ला विश्वविद्यालय भोपाल (मध्य प्रदेश) से उर्दू साहित्य में एमए पास किया। रहत को पीएच.डी. उर्दू साहित्य में उर्दू मुख्य मुशायरा शीर्षक से 1985 में मध्य प्रदेश के भोज विश्वविद्यालय से।

11 अगस्त 2020 को कार्डियक अरेस्ट से मध्य प्रदेश के इंदौर के अरबिंदो अस्पताल में उनकी मृत्यु हो गई। उनकी मृत्यु से ठीक एक रात पहले कोरोनो वायरस के संक्रमण के लिए उनका परीक्षण सकारात्मक था

..........

---------------------------------------

Sab pyaase hain sabka apna 

zariya hai badhiya hai

Har kulhad mein chota mota 

dariya hai badhiya hai

------

Kaala karte phirte hain sab 

shehron ke chehron ko

Aur hontho par raag wahi 

kesariya hai badhiya hai

------

Andhi goongi behri siyasat 

rassi par chalti hai

Kayi madaari hain aur ek 

bandariya hai badhiya hai

------

Imaano ka sauda in dukaano 

mein hota hai

Sansad kya hai bhaiyya ek 

bazariya hai badhiya hai

------

Bharat bhagya vidhaata Bharat 

bhar mein ugte hain

Modi hain Advani hain Togadiya 

hain badhiya hai

---------------------------------------

..........

---------------------------------------

सब प्यासे हैं सबका अपना जरिया है बढ़िया है

हर कुल्हड़ में छोटा मोटा दरिया है बढ़िया है

------

काला करते फिरते हैं सब शहरों के चेहरों को

और होंठो पर राग वही केसरिया है बढ़िया है

------

अंधी गूंगी बेहरी सियासत रस्सी पर चलती है

कई मदारी हैं और एक बंदरिया है बढ़िया है

------

इमानो का सौदा इन दुकानों में होता है

संसद क्या है भैय्या एक बजरिया है बढ़िया है

------

भारत भाग्य विधाता भारत भर में उगते हैं

मोदी हैं अडवाणी हैं तोगड़िया हैं बढ़िया है

---------------------------------------

... Thank You ...


( Disclaimer: The Orignal Copyright Of this Content Is Belong to the Respective Writer )
                                                                                                                                                                                                              

Post a Comment

0 Comments