Dr. Rahat Indori - Baat Mann Ki Kahein Ya Watan Ki Kahein - Flash Jokes - Latest shayari and funny jokes

Dr. Rahat Indori - Baat Mann Ki Kahein Ya Watan Ki Kahein

Dr. Rahat Indori - Baat Mann Ki Kahein Ya Watan Ki Kahein
Dr. Rahat Indori - Baat Mann Ki Kahein Ya Watan Ki Kahein

राहत इंदौरी के बारे में :-

राहत कुरैशी, जिसे बाद में राहत इंदौरी के नाम से जाना जाता है, का जन्म 1 जनवरी 1950 को इंदौर में रफतुल्लाह कुरैशी, कपड़ा मिल मजदूर और उनकी पत्नी मकबूल उन निसा बेगम के यहाँ हुआ था। वह उनका चौथा बच्चा था। 

उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा नूतन स्कूल इंदौर से की जहाँ से उन्होंने अपनी हायर सेकंडरी पूरी की। उन्होंने 1973 में इस्लामिया करीमिया कॉलेज, 

इंदौर से स्नातक की पढ़ाई पूरी की और 1975 में बरकतउल्ला विश्वविद्यालय भोपाल (मध्य प्रदेश) से उर्दू साहित्य में एमए पास किया। रहत को पीएच.डी. उर्दू साहित्य में उर्दू मुख्य मुशायरा शीर्षक से 1985 में मध्य प्रदेश के भोज विश्वविद्यालय से।

..........

---------------------------------------
Jhooth se sach se jisse bhi 

yaari rakhein Aap to apni 

taqreer jaari rakhein

------

In dino aap malik hain 

baazaar ke Jo bhi chahein wo 

keemat hamaari rakhein

------

Aapke paas choron ki fehrist 

hai Sab pe dast-e-karam 

baari baari rakhein

------

Baat mann ki kahein ya watan 

ki kahein Jhooth bolein to 

aawaaz bhaari rakhein

------

Ser ke vaaste aur bhi 

hai zamin Roz taiyyaar 

apni sawaari rakhein

------

Wo mukammal bhi hon ye 

zaruri nahin Yojnaayein magar 

dher saari rakhein
---------------------------------------


..........

---------------------------------------
झूठ से सच से जिससे भी यारी रखें

आप तो अपनी तक़रीर जारी रखें

------

इन दिनों आप मालिक हैं बाज़ार के

जो भी चाहें वो कीमत हमारी रखें

------

आपके पास चोरों की फेहरिस्त है

सब पे दस्त-ए-करम बारी बारी रखें

------

बात मैं की कहें या वतन की कहें

झूठ बोलेन तो आवाज़ भारी रखें

------

सेर के वास्ते और भी है ज़मीं

रोज़ तैयार अपनी सवारी रखें

------

वो मुकम्मल भी हों ये ज़रूरी नहीं

योजनाएं मगर ढेर साड़ी रखें

---------------------------------------

... Thank You ...



Disclaimer: The Orignal Copyright Of this Content Is Belong to the Respective Writer )
                                                                                                                                                                                                              

Post a Comment

0 Comments