Two Line Shayari | Short Hindi Shayari - Flash Jokes - Latest shayari and funny jokes

Two Line Shayari | Short Hindi Shayari

Two Line Shayari | Short Hindi Shayari
Two Line Shayari | Short Hindi Shayari


---------------------------------------
Is Tarah Humse Ruthna Achchi Baat Nahi..

Jab Tak Nahi Doge Phool, Apni Mulakat Nahi..
---------------------------------------
Tip: To Copy Status, Tap & Hold On The Status
---------------------------------------
Mujhe Dekhkar Tum Apna Rasta Kyu Badal Lete H..

Agar Hai Nahi Mohbbat To Phir Muskura Kyo Dete Ho..!!
---------------------------------------

---------------------------------------
Nikle Hum Duniya Ki Bheed Mein To Pata Chala, 

Har Wo Shakhs Akela Hai Jisne Bhi Mohabbat Ki Hai...
---------------------------------------

---------------------------------------
Yeh ishq nahi aasaan bas itna samajh lijiye...

Ek aag ka dariya hai aur doob ke jana hai..
---------------------------------------

---------------------------------------
Meri shayari mere tajurbe ka izhaar hai or kuch bhi nahi, 

Sochta hu koi to sambhal jayega mujhe padhne ke baad...
---------------------------------------

---------------------------------------
Tum laut kar aane ka takalluf nahi karna, 

Hum ek galti dubara kiya nahi karte...
---------------------------------------

---------------------------------------
Log Puchte Hai Tujhe Kya Mila Ishq Me, 

Wo Uska Pyar Jatana Hi Bas Kaafi Hai! 
---------------------------------------

---------------------------------------
Meri Jaan,teri Jaan, bas Jaan Me Fasi Thi Ek Meri Jaan, 

Tere Diye Dhokhe Se Kho Chuka Hu Aaj Pehchaan!
---------------------------------------

---------------------------------------
Maut To ek Din Sabhi Ko Aani Hai Mere Yaar, 

Chalo Kisi Ke Pyar Me Mar Kar Dekhe.
---------------------------------------

---------------------------------------
Uski Zulfon Me Baat Hi Kuch Aisi Thi, 

Agar Dil Na Dete To Jaan Chali Jati..
---------------------------------------

---------------------------------------
Har shakhs saccha saathi talaash karta hai, 

par sacch saathi banne ki koi zahmat nahi karta،
---------------------------------------

---------------------------------------
Kabhi Humse Bhi Pucho Haal Hamara, 

Hum Bhi Kahein Ki 'Dua Hai Aapki'
---------------------------------------

---------------------------------------
Mere dushman jal jate hai mere shaahi andaaz se, 

kyoki hum dosti bhi karte hai mohabbat ke andaaz se.
---------------------------------------

---------------------------------------
Wo Na Mile To Kya Huwa, 

Ye Ishq Tha kuch aur nahin...Main Unhin Ka Tha, 

Main Unhin Ka Hun, Wo Meri Nahin To Na Sahi..
---------------------------------------

---------------------------------------
Ye sach hai ke humein fursat nahi milti..

Magar jab Yaad karte hain tO zamana Bhool jate hain.
---------------------------------------

---------------------------------------
Mujhe maloom tha k tum kisi se pyar karti ho..

Magar...ye dekhna tha..kis tarah izhaar karti ho.....!
---------------------------------------

---------------------------------------
Dil Majboor ho raha hai tum se baat karne ko...

Bas zidd ye hai k Guftagu ka Aghaaz tum karo......!!!
---------------------------------------

---------------------------------------
Main Bohot Zalim Hun Aye Mere Dil...

Tujhe Hamesha Us Ke Hawale Kiya Jise TeRi Qadar Hi Nahi..
---------------------------------------

---------------------------------------
Woh meri soch k parde mein chupa betha hai...

main kisi aur ko sochon bhi to sochun kaise....?
---------------------------------------

---------------------------------------
Itne imtihaan Mat Le Meri Mohabbat Ka, 

Kahi Main Na Rahu Aur Tu Mujhe Dhoondti Fire...
---------------------------------------

---------------------------------------
Mere Kadam Jab Bi Chale Teri Taak Me, 

Najane Koi Na Koi Aa Jata Hai Beech Me!
---------------------------------------

---------------------------------------
Faqat Itni Guzaarish Hai MOHABBAT Mein Mere Moula..

Mujhe Nakaam Hone Se Zara Pehle Utha Lena..
---------------------------------------

---------------------------------------
Teri Mehfil Se Uthkar Chale To Kisi Ko Khabar Bhi Na Thi..

Tera Mud Mud kar Dekhna Humein Badnaam Kar Gaya
---------------------------------------

---------------------------------------
Ye meri mohabbat thi ke deewangi ki intiha, 

tere saamne baitha raha tere hi khayalo me!!! 
---------------------------------------

---------------------------------------
Raat Sar Per Hai Aur Safar Baaki, 

Humko Chalna Zara Savere Tha...
---------------------------------------

---------------------------------------
Sab Hawayein Le Gaya Mere Samander Ki Koi, 

Aur Mujhko Ek Kashti Baadbaani De Gaya...
---------------------------------------

---------------------------------------
Apni Vajahe-Barbaadi Suniye To Maje Ki Hai, 

Zindagi Se Yoon Khele Jaise Dusre Ki Hai...
--------------------------------------

---------------------------------------
Kaun Sa Sher Sunayun Main Tumhe, 

Sochta Hun, Nya Uljha Hai Bahut Aur Purana Mushkil...
---------------------------------------

---------------------------------------
Unse Ab Vaaps Kharidun Khud Ko Main, 

Log Jo Maange Voh Apne Daam Doon...
---------------------------------------

---------------------------------------
Aie shekh mere peene ka andaz dekh, 

Aksar sharab me aansu mila ke peeta hoon...
---------------------------------------

---------------------------------------
Kahin fisal na jao zara sambhal ke rehna, 

Mausam baarish ka bhi hai aur mohabbat ka bhi...
---------------------------------------

---------------------------------------
Hum roj udas hote hai or shaam guzar jaati hai, 

Ek roj shaam bi udas hogi or hum guzar jayenge...
---------------------------------------

---------------------------------------
मेरी हर बात को उल्टा वो समझ लेते हैं, 

अब के पूछा तो कह दूंगा कि हाल अच्छा है..
---------------------------------------
Tip: To Copy Status, Tap & Hold On The Status
---------------------------------------
खामोशियाँ में शोर को सुना है मैंने, ये

 ग़ज़ल गुंगुनायेगी रात के साये में ।
---------------------------------------

---------------------------------------
मिला क्या हमें सारी उम्र मोहब्बत करके, 

बस एक शायरी का हुनर, एक रातों का जागना..
---------------------------------------

---------------------------------------
ना पीछे मुड़ के देखो, ना आवाज़ दो मुझको, 

बड़ी मुश्किल से सीखा है मैंने अलविदा कहना..!
---------------------------------------

---------------------------------------
कभी टूटा नहीं मेरे दिल से तेरी यादों का रिश्ता..

गुफ़्तगू किसी से भी हो ख़याल तेरा ही रहता है..
---------------------------------------

---------------------------------------
ना छेड़ किस्सा वोह उल्फत का बड़ी लम्बी कहानी है, 

मैं जिन्दगी से नहीं हारा किसी अपने की मेहरबानी है...
---------------------------------------

---------------------------------------
हर किसी के हाथ मैं बिक जाने को हम तैयार नहीं..

यह मेरा दिल है तेरे शहर का अख़बार नहीं..
---------------------------------------

---------------------------------------
आज भी एक सवाल छिपा है.. दिल के किसी कोने मैं..

की क्या कमी रह गईथी तेरा होने में...
---------------------------------------

---------------------------------------
मेरी लिखी किताब, मेरे ही हाथो मे देकर वो कहने लगे, 

इसे पढा करो, मोहब्बत करना सिख जाओगे..!!
---------------------------------------

---------------------------------------
इतनी चाहत तो लाखो रुपए पाने की भी नही होती..

जितनी बचपन की तस्वीर देख कर बचपन में जाने की होती हैं...
---------------------------------------

---------------------------------------
चुपचाप चल रहे थे.. हम अपनी मंजिल की तरफ..

फिर रस्ते में एक ठेका पड़ा.. और हम गुमराह हो गए। 
---------------------------------------

---------------------------------------
ऐ जीन्दगी जा ढुंड॒ कोई खो गया है मुझ से., 

अगर वो ना मिला तो सुन तेरी भी जरुरत नही मुझे...
---------------------------------------

---------------------------------------
कुछ दूर हमारे साथ चलो, हम दिल की कहानी कह देंगे, 

समझे ना जिसे तुम आखो से, वो बात जुबानी कह देंगे ।
---------------------------------------

---------------------------------------
कितनी ही खूबसूरत क्यों न हो तुम..पर मैं जानता हूँ.. 

असली निखार मेरी तारीफ से ही आता है..
---------------------------------------

---------------------------------------
होने वाले ख़ुद ही अपने हो जाते हैं..किसी को कहकर, 

अपना बनाया नही जाता..!!
---------------------------------------

---------------------------------------
नक़ाब क्या छुपाएगा शबाब-ए-हुस्न को, 

निगाह-ए-इश्क तो पत्थर भी चीर देती है..
---------------------------------------

---------------------------------------
ज़िन्दगी जोकर सी निकली, 

कोई अपना भी नहीं.. कोई पराया भी नहीं...
---------------------------------------

---------------------------------------
मेरी आँखों में बहने वाला ये आवारा सा आसूँ, पूछ रहा है.. 

पलकों से तेरी बेवफाई की वजह..
---------------------------------------

---------------------------------------
दम तोड़ जाती है हर शिकायत लबों पे आकर, 

जब मासूमियत से वो कहती है मैंने क्या किया है...
---------------------------------------

---------------------------------------
अगर तुम्हें यकीं नहीं, तो कहने को कुछ नहीं मेरे पास, 

अगर तुम्हें यकीं है, तो मुझे कुछ कहने की जरूरत नही !
---------------------------------------

---------------------------------------
तुम बदलो तो….कहेते हो मज़बूरीयाँ है बहोत, 

और हम ज़रा सा बदले तो हम बेवफ़ा हो गए|
---------------------------------------

---------------------------------------
सुकून ऐ दिल के लिए कभी हाल तो पूँछ ही लिया करो, 

मालूम तो हमें भी है कि हम आपके कुछ नहीं लगते..
---------------------------------------

---------------------------------------
यूँ बिगड़ी बहकी बातों का कोई शौक़ नही है मुझको, 

वो पुरानी शराब के जैसी है,असर सर से उतरता ही नही..
---------------------------------------

---------------------------------------
बेवफा कहने से पहले मेरी रग रग का खून निचोड़ लेना। 

कतरे कतरे से वफ़ा ना मिले तो बेशक मुझे छोड़ देना।
---------------------------------------

---------------------------------------
पीते थे शराब हम, उसने छुड़ाई अपनी कसम देकर, 

महफ़िल में गए थे हम, यारों ने पिलाई उसकी कसम देकर।
---------------------------------------

---------------------------------------
तेरी तलाश में निकलू भी तो क्या फायदा..

तुम बदल गए हो.. खो गए होते तो और बात थी|
---------------------------------------

---------------------------------------
तज़ुर्बा है मेरा मिट्टी की पकड़ मजबुत होती है, 

संगमरमर पर तो हमने पाँव फिसलते देखे हैं..
---------------------------------------

---------------------------------------
उस शख्स का गम भी कोई सोचे..

जिसे रोता हुआ ना देखा हो किसी ने..
---------------------------------------

---------------------------------------
जाने क्या मासूमियत है तेरे चेहरे में, तेरे सामने 

आने से ज्यादा तुझे छुपके देखना अच्छा लगता है
---------------------------------------

---------------------------------------
खुद पर भरोसे का हुनर सीख ले..

लोग जितने भी सच्चे हो साथ छोड़ ही जाते हैं|
---------------------------------------

---------------------------------------
तेरा प्यार भी एक हजार की नोट जैसा है, 

डर लगता है कहीं नकली तो नहीं|
---------------------------------------

---------------------------------------
आज इतना जहर पिला दो कि सांस तक रुक जाए मेरी, 

सुना है कि सांस रुक जाए तो रूठे हुये भी देखने आते है…!
---------------------------------------

---------------------------------------
क्यूँ शर्मिंदा करते हो रोज, हाल हमारा पूँछ कर, 

हाल हमारा वही है जो तुमने बना रखा हैं…
---------------------------------------
Tip: To Copy Status, Tap & Hold On The Status
---------------------------------------
उम्र गुजार दी मैने गमो के कारोबार मे। 

खुदा जाने सुकून बिकता कहा है?
---------------------------------------

---------------------------------------
सुकून ऐ दिल के लिए कभी हाल तो पूँछ ही लिया करो, 

मालूम तो हमें भी है कि हम आपके कुछ नहीं लगते…!
---------------------------------------

---------------------------------------
तुम्हारे खयालो में चलते चलते कही फिसल ना जाऊ मैं, 

अपनी यादों को रोक, की मेरे शहर में बारिश का मौसम है..
---------------------------------------

---------------------------------------
मुहब्बत में यही खौफ क्यों हरदम रहता है…

कही मेरे सिवा किसी और से तो मुहब्बत नहीं उसे…
---------------------------------------

---------------------------------------
खुदा का शुक्र है की ख्वाब बना दिये, 

वरना तुम्हे देखने की तो हसरत ही रह जाती।
---------------------------------------

---------------------------------------
मुझे रुला कर सोना तो तेरी आदत बन गई है, 

जिस दिन मेरी आँख ना खुली तुझे निंद से नफरत हो जायेगी|
---------------------------------------

---------------------------------------
सुना है आज उस की आँखों मे आसु आ गये..!! 

वो बच्चो को सिखा रही थी की मोहब्बत ऐसे लिखते है..!!
---------------------------------------

---------------------------------------
न रूठ जाओ तुम मेरी वफाओं से, 

मै खुद मना लूंगा तुम्हे दुआओं से।
---------------------------------------

---------------------------------------
हम भी बडे रहीश थे दिल कि दौलत लूटा बैठे, 

किस्मत एेसी पलटी ईश्क के धधे मे आ बैठे|
---------------------------------------

---------------------------------------
नाकाम थीं मेरी सब कोशिशें उस को मनाने की, 

पता नहीं कहां से सीखी जालिम ने अदाएं रूठ जाने की।
---------------------------------------

---------------------------------------
हौसला रखो उसे मनाने का, 

वो रूठ जाता है इसी बहाने से
---------------------------------------

---------------------------------------
बड़ी मुश्किल से सुलाया है ख़ुद को मैंने..

अपनी आँखों को तेरे ख़्वाब क़ा लालच देकर|
---------------------------------------

---------------------------------------
उसने पुछा जिंदगी किसने बरबाद की, 

हमने ऊँगली उठाई और अपने ही दिल पर रख ली |
---------------------------------------

---------------------------------------
ऐ शेख़ मेरे पीने का अंदाज़ देख, 

अक्सर शराब में आंसू मिला के पीता हूँ|
---------------------------------------

---------------------------------------
कहीं फिसल ना जाओ ज़रा संभल के रहना, 

मौसम बारिश का भी है और मुहब्बत का भी…
---------------------------------------

---------------------------------------
मंजर भी बेनूर थे और फिजायें भी बेरंग थी…

बस तुम याद आए और मौसम सुहाना हो गया…
---------------------------------------

---------------------------------------
फितरत, सोच और हालात में फर्क है…वरना ,

इन्सान कैसा भी हो दिल का बुरा नही होता...
---------------------------------------

---------------------------------------
गिरा दे जितना पानी है तेरे पास ऐ बादल...

ये प्यास किसी के मिलने से बुझेगी तेरे बरसने से नही...
---------------------------------------

---------------------------------------
तकलीफें तो हज़ारों हैं इस ज़माने में, 

बस कोई अपना नजऱ अंदाज़ करे तो बर्दाश्त नहीं होता...
---------------------------------------

---------------------------------------
तना पानी है तेरे पास ऐ बादल...

ये प्यास किसी के मिलने से बुझेगी तेरे बरसने से नही...
---------------------------------------

---------------------------------------
आजकल के हर आशिक की अब तो यही कहानी है...

मजनू चाहता है लैला को, लैला किसी और की दीवानी है !!!
---------------------------------------

---------------------------------------
मोहब्बत वक़्त के बे-रहम तूफान से नही डरती, 

उससे कहना, बिछड़ने से मोहब्बत तो नही मरती...
---------------------------------------

---------------------------------------
जिंदगी के रूप में दो घूंट मिले, इक तेरे इश्क का पी चुके हैं..

दुसरा तेरी जुदाई का पी रहे हैं !!!! 
---------------------------------------

---------------------------------------
मुस्कुराने की आदत भी कितनी महँगी पड़ी हमे, 

छोड़ गया वो ये सोच कर की हम जुदाई मे भी खुश हैं...
---------------------------------------

---------------------------------------
जिस्म उसका भी मिट्टी का है मेरी तरह….! 

ए खुदा  फिर क्यू सिर्फ मेरा ही दिल तडफता है उस के लिये…!
---------------------------------------

---------------------------------------
चुभता तो बहुत कुछ मुझको भी है तीर की तरह, 

मगर ख़ामोश रहेता हूँ, अपनी तक़दीर की तरह|
---------------------------------------

---------------------------------------
ऊपर वाले ने कितने लोगो की तक़दीर सवारी है...

काश वो एक बार मुझे भी कह दे के आज तेरी बारी है|
---------------------------------------

---------------------------------------
झूठ बोलते थे कितना, फिर भी सच्चे थे हम, 

ये उन दिनों की बात है, जब बच्चे थे हम !!
---------------------------------------

---------------------------------------
ज़ख़्म दे कर ना पूछा करो, दर्द की शिद्दत, 

दर्द तो दर्द होता हैं, थोड़ा क्या, ज्यादा क्या !!!
---------------------------------------

---------------------------------------
तकलीफें तो हज़ारों हैं इस ज़माने में, 

बस कोई अपना नज़र अंदाज़ करे तो बर्दाश्त नहीं होता !!!
---------------------------------------

---------------------------------------
अच्छा लगता हैं तेरा नाम मेरे नाम के साथ, 

जैसे कोई खूबसूरत सुबह जुड़ी हो, किसी हसीन शाम के साथ !!!
---------------------------------------

---------------------------------------
अपनी ईन नशीली निगाहों को, जरा झुका दीजिए जनाब…

मेरे मजहब में नशा हराम है…
---------------------------------------

---------------------------------------
दुनिया के रैन बसेरे में पता नहीं कितने तक रहना है, 

जीत लो लोगों के दिलों को बस यही जीवन का गहना है…
---------------------------------------

---------------------------------------
एक तुम हो कि कुछ कहती नहीं, 

एक तुम्हारी यादें हैं, कि चुप रहती नही...
---------------------------------------

---------------------------------------
हाथ पर हाथ रखा उसने तो मालूम हुआ, 

अनकही बात को किस तरह सुना जाता है…!!
---------------------------------------

---------------------------------------
कोई पत्थर चोट खाके कंकर कंकर हो गया, 

और कोई पत्थर चोट सहके शंकर शंकर हो गया|
---------------------------------------

---------------------------------------
तुम मोहब्बत के सौदे भी अजीब करते हो, 

बस मुस्कुरा देते हो और अपना बना लेते हो|
---------------------------------------

---------------------------------------
हमारे महफिल में लोग बिन बुलाये आते है क्यू, 

की यहाँ स्वागत में फूल नहीं दिल बिछाये जाते है|
---------------------------------------

---------------------------------------
बर्बाद होने के और भी रास्ते थे, 

ना जाने मुझे मोहब्बत का ही ख्याल क्यूँ आया|
---------------------------------------

---------------------------------------
तेरी मुहब्बत पर मेरा हक तो नही पर दिल चाहता है, 

आखरी सास तक तेरा इंतजार करू|
---------------------------------------

---------------------------------------
ऐ समुन्द्र तेरे से वाकिफ हूँ … मगर इतना बताता हूँ, 

वो आँखे तुझसे ज्यादा गहरी है, जिनका में आशिक हूँ|
---------------------------------------

---------------------------------------
Vajah Nafrato Ki Talashi Jati Hai, 

Mohabbat To Bevajhah Ho Jati Hai...
---------------------------------------

---------------------------------------
आज सड़क पर निकले तो तेरी याद आ गई, 

तूने भी इस सिग्नल की तरह रंग बदला था!!!
---------------------------------------

---------------------------------------
मेरी कब्र के पास Wi-Fi जरूर लगाना, 

क्योंकि मेरे दोस्त इतने कमीने है...

कि  Wi-Fi यूज करने के लिए, जरूर मेरे पास आएगे...
---------------------------------------

---------------------------------------
तेरी कमर पर हाथ रक्खा था...

नियत का फिसल कर नीचे सरकना तो लाज़मी था...
---------------------------------------

---------------------------------------
आयेंगे तेरी गलि में चाहे देर क्यू न हो जाये। 

करेंगे मोहब्बत तुझसे हि चाहे जेल क्यू न हो जाये...
---------------------------------------

---------------------------------------
तू घडी भर के लिए मेरी नज़रो के सामने आजा, 

एक मुद्द्त से मैंने खुद को आईने में नहीं देखा...
---------------------------------------

---------------------------------------
लोग कहते हें…वक्त किसी का गुलाम नही होता, 

फिर क्युँ तेरी मुस्कुराहट पे ये थम सा जाता हे???
---------------------------------------
Tip: To Copy Status, Tap & Hold On The Status
---------------------------------------
जितने वाला ही नहीं.. बल्कि ‘कहाँ पे क्या हारना है’...

ये जानने वाला भी सिकंदर होता है..||
---------------------------------------

---------------------------------------
यारों ख्वाबों मे कह देता हूँ...जिनसे हर बात., 

आज सामने आए तो.. अल्फाजो ने साथ छोड दिया मेरा..!!
---------------------------------------

---------------------------------------
अये मौत तुझे तो गले लगा लूँगा बस जरा तो ठहर, 

है हसरत दिल की तुझसे पहले उसे गले लगाने की...
---------------------------------------

---------------------------------------
मेरे दिल की उम्मीदों का हौसला तो देखो, 

इंतज़ार उसका है जिसे मेरा एहसास तक नहीं...
---------------------------------------

---------------------------------------
कदमो को रुकने का हुनर नहीं आया, 

सभी मंजिले निकल गयी पर घर नहीं आया…
---------------------------------------

---------------------------------------
एक चाहत थी आपके साथ जीने की, 

वरना मोहब्बत तो किसी और से भी हो सकती थी...
---------------------------------------

---------------------------------------
मेरी मोहब्बत सच्ची है इसलिए तेरी याद आती है...

अगर तेरी बेवफाई सच्ची है तो अब याद मत आना...
---------------------------------------

---------------------------------------
हमे क्या पता था, आसमा ऐसे रो पडेगा.., 

हमने तो बस इन्हें अपनी दास्ता सुनाई थी..!!!
---------------------------------------

---------------------------------------
मानो तो हर पत्थर मेँ खुदा बसता है...

अंदाज यही से लगा सकते हैँ आप, कि खूदा कितना सस्ता है...
---------------------------------------

---------------------------------------
नाजुक मिजाज हूँ कुछ, कुछ दिल से भी हूँ परेशाँ, 

पायल पहन के पांव में मै छमछम से डर गई...
---------------------------------------

---------------------------------------
तुझे रख लिया इन यादों ने..फूल सा किताब में…

इस दिल में तुम रहेगे सदा..और महकोगे इन साँसों में…।।
---------------------------------------

---------------------------------------
छू जाते हो तुम मुझे हर रोज एक नया ख्वाब बनकर.., 

ये दुनिया तो खामखां कहती है कि तुम मेरे करीब नहीं...
---------------------------------------

---------------------------------------
हाल तो पूछ लू तेरा पर डरता हूँ आवाज़ से तेरी। 

ज़ब ज़ब सुनी है कमबख्त मोहब्बत ही हुई है।
---------------------------------------

---------------------------------------
जब जी चाहे नई दुनिया बना लेते है लोग, 

एक चेहरे पे कई चहरे लगा लेते है लोग...
---------------------------------------

---------------------------------------
महफ़िल भले ही प्यार वालों की हो...

उसमे रौनक तो दिल टुटा हुआ शराबी ही लाता हैं…
---------------------------------------

---------------------------------------
जिंदगी बड़ी अजीब सी हो गयी है, 

जो मुसाफिर थे वो रास नहीं आये, 

जिन्हें चाहा वो साथ नहीं आये ..!!
---------------------------------------

---------------------------------------
कब दोगे ‘रिहाई’ मुझे इन यादोँ की ‘कैद’ से..

ऐँ ‘इश्क.. अपने ‘जुल्म’ देख.. मेरी ‘उम्र’ देख…
---------------------------------------

---------------------------------------
वह मेरा वेहम था की वो मेरा हमसफ़र है। 

वह चलता तो मेरे साथ था पर किसी और की तलाश में।
---------------------------------------

---------------------------------------
तरीका मेरे क़त्ल का, ये भी इजाद करो..

कि मर जाऊँ मै हिचकियो से, मुझे इतना याद करो...
---------------------------------------

---------------------------------------
जब फुरसत मिले तो चाँद से मेरे दर्द की कहानी पुछ लेना, 

एक वो ही है मेरा हमराज तेरे जाने के बाद|
---------------------------------------

---------------------------------------
चेहरे ‘अजनबी’ हो जाये तो कोई बात नही, लेकिन, 

रवैये ‘अजनबी’ हो जाये तो बडी ‘तकलीफ’ देते हैं !
---------------------------------------

---------------------------------------
बहुत थे मेरे भी इस दुनिया मेँ अपने, 

फिर हुआ इश्क और हम लावारिस हो गए।
---------------------------------------

---------------------------------------
लिखी है खुदा ने मोहब्बत सबकी तक़दीर में, 

हमारी बारी आई तो स्याही ही ख़त्म हो गई।
---------------------------------------

---------------------------------------
रिवाज तो यही हे दुनिया का मिल जाना और बिछड जाना, 

तुम से ये कैसा रिशता है ना मिलते हो ना बिछडते हो|
---------------------------------------

---------------------------------------
अंदाज़ बदलने लगते हैं होठों पे शरारत होती है, 

नजरों से पता चल जाता है जिस दिल में मोहब्बत होती है...
---------------------------------------

---------------------------------------
क्या लिखूँ , अपनी जिंदगी के बारे में दोस्तों...

वो लोग ही बिछड़ गए जो जिंदगी हुआ करते थे|
---------------------------------------

---------------------------------------
तेरा नज़रिया मेरे नज़रिये से अलग था, 

शायद तुझे वक्त गुज़ारना था और मुझे जिन्दगी !!!
---------------------------------------

---------------------------------------
जिनके प्यार बिछड़े है उनका सुकून से क्या ताल्लुक़, 

उनकी आँखों में नींद नही सिर्फ आंसू आया करते है...
---------------------------------------

---------------------------------------
अभी तक मौजूद हैं इस दिल पे तेरे क़दमों के निशान, 

हमने तेरे बाद किसी को इस राह से गुजरने नहीं दिया...
---------------------------------------

---------------------------------------
नाराज़गी तो यहा हर किसी में भरी है, 

मेरे दिल को ही देख लो अपना होकर भी नाराज है।
---------------------------------------

---------------------------------------
ये ना पूछ कितनी शिकायतें हैं तुझसे ऐ ज़िन्दगी, 

सिर्फ इतना बता की तेरा कोई और सितम बाक़ी तो नहीं...
---------------------------------------

---------------------------------------
वक्त की यारी तो हर कोई करता है मेरे दोस्त, 

मजा तो तब है जब वक्त बदल जाये पर यार ना बदले...
---------------------------------------

---------------------------------------
अहसास मिटा,तलाश मिटी, मिट गई उम्मीदें भी...

सब मिट गया पर जो न मिट सका वो है यादें तेरी...
---------------------------------------

---------------------------------------
अरे पगली किराए का घर समझकर ही मेरे दिल मेँ बस जाओ, 

मैँ समझूँगा कि मेरे दिल का मकान मालिक रहने आया है...
---------------------------------------




... Thank You ...
                                                                                                                                                                                  

Post a Comment

0 Comments