WO MERA INTEZAR KAR RAHA HAI | GOONJ CHAND | POETRY - Flash Jokes - Latest shayari and funny jokes

WO MERA INTEZAR KAR RAHA HAI | GOONJ CHAND | POETRY

वो मेरा इंतज़ार कर रहा है...



WO MERA INTEZAR KAR RAHA HAI | GOONJ CHAND | POETRY
WO MERA INTEZAR KAR RAHA HAI | GOONJ CHAND | POETRY

......

क्या कहा वो मेरा इंतज़ार कर रहा है

पागल बना रहा है वो तुम्हे और मजाक कर रहा है 

...

इंतज़ार तो हमने किया था ताउम्र उसका 

वो तो बस दिखावे के लिए महान बन रहा है

क्या कहा वो मेरा इंतज़ार कर रहा है


...


बोहत फायदा उठाया था उसने मेरे प्यार का 

आज हु एक मुकाम पे तो सरेआम इजहार कर रहा है

वो तो बस दिखावे के लिए महान बन रहा है


...


क्या कहा वो मेरा इंतज़ार कर रहा है

पागल बना रहा है वो तुम्हे और मजाक कर रहा है


...


डूबा रहता जो नशे में सुबह शाम 

आज वो मंदिर में जा - जा कर दान कर रहा है 

वो तो बस दिखावे के लिए महान बन रहा है


...


क्या कहा वो मेरा इंतज़ार कर रहा है

पागल बना रहा है वो तुम्हे और मजाक कर रहा है


...


नफरत करता था जो कभी सूरत से मेरी

आज वो फेसबुक , इंस्टा , ट्विटर पे मेरा दीदार कर रहा है 

वो तो बस दिखावे के लिए महान बन रहा है


...


क्या कहा वो मेरा इंतज़ार कर रहा है

पागल बना रहा है वो तुम्हे और मजाक कर रहा है


...


नहीं दीखता था जिसको अपने ईगो के आगे कुछ भी

वो आज सबसे सर झुकाये मिल रहा है 

वो तो बस दिखावे के लिए महान बन रहा है


...


क्या कहा वो मेरा इंतज़ार कर रहा है

पागल बना रहा है वो तुम्हे और मजाक कर रहा है


...


जाओ केह दो उससे अब मुझे उसकी जरुरत नहीं 

कहा मेरे चक्कर में इतने बबाल कर रहा है

वो तो बस दिखावे के लिए महान बन रहा है


...


क्या कहा वो मेरा इंतज़ार कर रहा है

पागल बना रहा है वो तुम्हे और मजाक कर रहा है


......



... Thank You ...



( Disclaimer: The Orignal Copyright Of this Content Is Belong to the Respective Writer )


                                                                                                                                                      

Post a Comment

0 Comments